गतिविधियाँ
 







लघुकथा सम्मेलन   15 -04- 2007


 
   
     
 
  सम्पर्क  




सुकेश साहनी
[email protected]
रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'
[email protected]

 
 
 






रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
डॉ0 सतीशराज पुष्करणा
प्रो रवीन्द्रनाथ ओझा
अमरनाथ चौधरी ‘अब्ज’
चन्द्रभूषण सिंह ‘चन्द्र’
परस दासोत
प्रबोध कुमार गोविल
रामयतन प्रसाद यादव
सत्यनारायण नाटे

वापसी

सुकेश साहनी
अखिलेन्द्र पाल सिंह
रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
जमाल अहमद वस्तवी
कुलदीप जैन
राजेन्द्र मोहन त्रिवेदी ‘बंधु’
राजकुमार ‘निजात’
महेन्द्र सिंह ‘उत्साही’
माधव नागदा
महावीर जैन
धीरेन्द्र शर्मा
रमेश बतरा
डॉ0 सतीशराज पुष्करणा
चित्रा मुद्गल
अशोक भाटिया
बलराम

उपकृत

जगदीश कश्यप
 
डॉ. हरदयाल
राजकिशोर
रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
डा दिनेश दधीचि
डा सतीश दुबे
सूर्यकान्त नागर
कृष्णानन्द कृष्ण
डॉ0 आरसु
गौतम सान्याल
जगदीश कश्यप
राधेलाल विजधावने
सुकेश साहनी
सूर्यकांत नागर
अशोक भाटिया
डॉ सुरेन्द्र मंथन
कमल चोपड़ा
डॉ. सतीश दुबे
शंकर पुणतांबेकर
विष्णु प्रभाकर
गाई एन पोकॉक
प्रो0 निशांतकेतु
जयप्रकाश मानस
बलराम अग्रवाल
श्याम सुन्दर अग्रवाल
 
सुकेश साहनी
डा. रामकुमार घोटड़
लघुकथा में शीर्षक का महत्त्व श्याम सुन्दर अग्रवाल
समकालीन लघुकथा की यथार्थ –दृष्टि डॉ. यशोधरा राठौर
लघुकथा : जैसा मैंने जाना हरदर्शन सहगल
हिन्दी लघुकथा में महिलाओं का योगदान मिथिलेशकुमारी मिश्र
हिमाचल का लघुकथा संसार रतन चंद 'रत्नेश'
हिन्दी लघुकथाओं में दलित संघर्ष भगीरथ
लघुकथा :अनुभूति और अभिव्यक्ति कमल चोपड़ा
सुकेश साहनी की लघुकथाओं में समकालीन संकट डॉ. शिवनारायण
लघुकथा–लेखक ख़ुद समीक्षा भी लिखें हरिशंकर परसाई से मुकेश शर्मा की बातचीत
लघुकथा के आईने में बालमन भगीरथ
लघुकथा में संवाद डॉ नागेन्द्र प्रसाद सिंह
भारतीय लघुकथाओं में स्त्री–पुरुष सम्बन्ध सुकेश साहनी
हिन्दी–साहित्य में लघुकथा का महत्व डॉ0 सतीशराज पुष्करणा
इंटरनेट और लघुकथा रामेश्वर काम्बोज हिमांशु
सृजन के आलोक में लघुकथाओं की तलाश सुकेश साहनी
विपिन जैन की लघुकथाएँ हीरालाल नागर
हिन्दी लघुकथा में समीक्षा की समस्याएँ एवं समाधान सतीशराज पुष्करणा
जीवन मूल्यों के हीरक द्वीप : विष्णु प्रभाकर की लघुकथाएँ डॉ. सुभाष रस्तोगी
लघुकथा में स्त्री विमर्श भगीरथ परिहार
लघुकथा और भाषिक प्रयोग रामेश्वर काम्बोज
लघुकथा का शीर्षक डॉ0 मिथिलेशकुमारी मिश्र
लघुकथा समाजशास्त्रीय पक्ष डॉ. अनीता राकेश
मण्टो की लघुकथाओं का यथार्थबोध शिवनारायण
हिन्दी लघुकथाओं में प्रेम माधव नागदा
लघुकथा में संपादित संकलनों का महत्त्व रूप देवगुण
डॉ सतीश दुबे का साक्षात्कार तारिक असलम तस्नीम
लघुकथा में समालोचना का भविष्य रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
डा. सुरेन्द्र मंथन का लघुकथा-संसार श्याम सुन्दर अग्रवाल
हिन्दी लघुकथा के वर्तमान परिदृश्य की पड़ताल सुकेश साहनी
लघुकथा : एक शास्त्रीय विवेचन सतीशराज पुष्करणा
समकालीन हिन्दी लघुकथाओं में नवीन मूल्यों की प्रतिष्ठा- जितेन्द्र ‘जीतू’
लेखकों को लघुकथा के साथ गम्भीरता से जुड़ना चाहिए डॉ. श्याम सुन्दर दीप्ति
हिन्दी लघुकथा के महत्त्वपूर्ण पड़ाव डॉ सतीशराज पुष्करणा
पंजाबी लघुकथाकार हरभजन सिंह खेमकरणी से विशेष बातचीत जगदीश कुलरियाँ
लघुकथाओं में कल्पना तत्त्व विक्रम सोनी
इरा शर्मा से हरिशंकर शर्मा की बातचीत(साक्षात्कार) साक्षात्कार
लघुकथा में शास्त्रीजी की भूमिका डॉ सतीशराज पुष्करणा
लघुकथा की भाषिक संरचना–संस्कार नागेन्द्र प्रसाद सिंह
लघुकथा का शिल्पविधान डॉ0 शंकर पुणतांबेकर
लघुकथा की रचना-प्रक्रिया कृष्णानन्द कृष्ण
लघुकथा लेखन के लिए अलग एप्रोच की जरूरत है राजेन्द्र यादव
लघुकथा और कहानी डॉ. शमीम शर्मा
लघुकथा के निकष पर पुरस्कृत लघुकथएँ सुकेश साहनी
लघुकथा की रचना प्रक्रिया सुकेश साहनी
लघुकथा में समीक्षा रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’
पंजाब का लघुकथा संसार श्याम सुन्दर अग्रवाल
लघुकथा का निबंध जय प्रकाश मानस
बाल मनोविज्ञान पर आधारित लघुकथाएँ सुकेश साहनी
लघुकथा का स्वभाव मुझे अपने स्वभाव जैसा लगता है-श्याम सुन्दर अग्रवाल पंजाबी कथाकार जगदीश राय कुलरियाँ से बातचीत के मुख्य अंश
खलील जिब्रान व्यक्तित्व और कृतित्व सुकेश साहनी
हिन्दी–लघुकथा साहित्य में महिलाओं का योगदान डॉ मिथिलेशकुमारी मिश्र
लघुकथा का महत्त्व पारस दासोत
 
Developed & Designed :- HANS INDIA
Best view in Internet explorer V.5 and above